UPTGT Latest News 2015

UPTGT Latest News 2015 

UPTGT Latest News 2015

UPTGT Latest News 2015

UPTGT Latest News 2015  : पहले से ही संकटों से घिरे माध्यमिक शिक्षा (secondary education) सेवा चयन बोर्ड की मुश्किलें हाईकोर्ट (High Court)ने और भी बढ़ा दी गयी हैं। अध्यक्ष की नियुक्ति रद होने के बाद ओर  सदस्यों का कोरम पूरा नही  होने से सभी कामकाज बिलकुल ठप हैं। इसी बीच में कोर्ट ने 2009 की टीजीटी (TGT) यानी स्नातक शिक्षक परीक्षा के एक विषय का पुनर्मूल्यांकन के आदेश से समस्या और गहरा गई है, साथ में ही यह चर्चा ओर तेज हो गई है कि  आखिरकार इसके लिए निर्देश किससे लें। चयन बोर्ड को अभी  इस संबंध में अब तक न्यायालय का आदेश वो अभी नहीं मिला  है। माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड उत्तर प्रदेश (UP) इधर तीन माह से एक के बाद एक समस्या से जूझ रहा है। हाईकोर्ट (High Court) ने पहले से ही चयन बोर्ड के तीन सदस्यों के कामकाज पर रोक लगाई हे , इसकी सुनवाई तो अब भी चल रही है और बाद में अध्यक्ष डा. सनिल कुमार की नियुक्ति रद कर दी गयी । ऐसे में चयन बोर्ड मुखिया विहीन होने के साथ ही उनका  कोरम भी खाली ही पड़ा है, सो यहां कामकाज बिलकुल ठप हो गया है।

UPTGT UPPGT High Court News

इसी बीच हाईकोर्ट (High Court) ने स्नातक शिक्षक यानी टीजीटी परीक्षा 2009 (TGT Exam 2009) के सामाजिक विज्ञान विषय का पुनर्मूल्यांकन कराने का आदेश दे दिया है। इससे हड़कंप मचा है असल में चयन बोर्ड इसी विषय के पांच सवालों का पुनमरूल्यांकन पहले से ही तय करा  चुका है और उसका परिणाम भी जारी कर दिया गया है, हालांकि जारी परिणाम के अनुसार ही स्नातक शिक्षकों की नियुक्ति भी नहीं हुई है। अब फिर जांच के आदेश से चयन बोर्ड बेफिक्र हो गया है। कहा जा रहा है कि इस बार सात अन्य सवालों का पुनमरूल्यांकन होना ही है, लेकिन अध्यक्ष न होने ओर  बोर्ड का कोरम पूरा नही  होने से इस संबंध में आदेश कौन जारी करेगा। उधर, माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के सचिव जितेंद्र कुमार ने बताया कहा कि हाईकोर्ट का आदेश अखबारों में पढ़ा जरूर है, लेकिन अब तक उसकी प्रति उन्हें नहीं मिल सकी   है। आदेश की कापी मिलने के बाद से ही तय किया जाएगा कि आखिर इस पर अमल किस तरह से किया जाए। उन्होंने कहा कि चयन बोर्ड कोर्ट के आदेश का समयबद्ध अनुपालन करेगा

 
Posted in ALL, Latest News Tagged with: , ,

पाए न्यूज़ अपनी ईमेल पर

Categories