UPTET Shiksha Mitra Latest News

UPTET Shiksha Mitra Latest News

uptet shiksha mitra latest news

UPTET Shiksha Mitra Latest News : जिले में करीब  साढ़े तीन हजार प्रशिक्षु शिक्षकों की इस  भर्ती के बावजूद भी  शिक्षा व्यवस्था जो है वो  पटरी पर बिल्कुल भी  नहीं आ पा रही है। निरीक्षण में  भी कई  तमाम स्कूलों में अध्यापक जी भी  अनुपस्थित मिलते हैं। ओर तो ओर  मध्याह्न भोजन में भी बड़ी कमियां  मिलती हैं और बच्चों की भी  उपस्थिति कम रहती है। इसी कारण से  बेसिक शिक्षा विभाग में कितने भी  तमाम प्रयासों के बावजूद भी  शिक्षण व्यवस्था में बिल्कुल भी  सुधार नहीं दिख रहा  है। आपको  बताये  कि जिले में देखा जाये तो  लगभग 2723 प्राइमरी तथा  1140 उच्च प्राथमिक स्कूल मोजूद  हैं।

 

प्राइमरी स्कूलों  में लगभग 3,60,000 व्  उच्च प्राथमिक विद्यालयों में करीब  1,40,000 बच्चो का  पंजीकृत हैं। इस वर्ष में  कितने ही  महीनों तक शिक्षकों की कमियों से  करीब  350 विद्यालयों में ताला बंद रहा है । ओर  शिक्षामित्रों के समायोजन के बाद ही  बंद जो विद्यालय थे उनके  ताले खोले गए लेकिन फिर भी  इसके बावजूद कई  तमाम विद्यालय है जो  एकल शिक्षक वाले रहे है । इधर भी  शासन स्तर से कई  प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती हुई तो फिर  6,000 शिक्षकों के सापेक्ष पहले ही  चरण में 2142 व्  दूसरे चरण में भी  1402 शिक्षकों की नियुक्ति करा दी गयी । इसी  तरह जिले को करीब  3544 नए शिक्षक मिल पाए । अभी तक  लगभग करीब  2500 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती  होनी है।

इन सब  शिक्षकों की तैनाती से ही  एकल शिक्षको  की समस्या लगभग  बहुत हद तक दूर हो गई है । कई जगहों पर  मध्याह्न भोजन में गुणवत्ता का बड़ा  अभाव मिला है  और बच्चों की संख्याओ को बढ़ा कर दर्शाई गई है । बीते हुए  दिवस में  डीएम किंजल सिंह ने कितने ही  स्कूलों का निरीक्षण भी  किया डीएम के निरीक्षण में भी शैक्षिण की  गुणवत्ता की स्थिति बड़ी  अत्यंत दयनीय मिली है । मध्याह्न भोजन में भी  गुणवत्ता का बड़ा  अभाव मिला। प्राथमिक विद्यालय के  फूलबेंहड़ में बच्चों को जो   भोजन दिया जाता है वो  भी अल्प मात्रा में मिला। यहां बच्चों की  भोजन की प्लेटें बड़ी  गंदी मिली। डीएम ने इसी कारण  व्यवस्था पर रोष व्यक्त किया। ओर उधर  बीएसए डा.ओपी राय ने बताया कि

 
Posted in ALL, Latest News, Shiksha Mitra, UPTET Tagged with: , , , ,

पाए न्यूज़ अपनी ईमेल पर

Categories