UPTET 2017 SCERT Dhandhli Latest News in Hindi

UPTET 2017 SCERT Dhandhli Latest News in Hindi

UPTET 2017 SCERT Dhandhli Latest News in Hindi :

Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test, UPTET 2017 कराने की जिम्मेदारी दागी Computer Agency को दिए जाने की शिकायत हुई है। 15 October को प्रस्तावित Exam से पहले शिकायत मिलने पर निदेशक State Council of Educational Research and Training, SCERT Dr. Sarvindar Vikram Bahadur Singh ने 7 September को सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी (Secretary Examination Regulatory Authority) Dr. Sutta Singh को Letter लिखकर One Week में Report तलब की है।

UPTET 2017 SCERT Dhandhli Latest News in Hindi

UPTET 2017 SCERT Dhandhli Latest News in Hindi

शिकायत की गई है कि इसी Agency ने Uttar Pradesh Secondary Education Service Selection Board की ओर से सहायता प्राप्त Secondary Schools में Trained Graduate (Trained Graduate Teacher, TGT) Or Lecturer(Post Graduate Teacher, PGT) 2013 की Bharti के लिए Exam का काम भी कराया गया था जिसमें बड़े स्तर पर धांधली की शिकायत मिली थी। गौरतलब है कि Primary और Upper Primary Level की Teacher Eligibility Test के लिए इस बार 15,08,410 Candidates ने Registration कराया है।

गड़बड़ी के बाद संशोधित हुए थे कई Subjects के Result :

जिस दागी Agency को TET 2017 का काम देने की शिकायत हुई है उसी ने TGT-PGT 2013 की Written Exam की OMR Sheet भी जांची थी।
Candidates ने Selection Board के तत्कालीन अध्यक्ष Hira Lal Gupta ने Copies के जांचने में गड़बड़ी की शिकायत की तो Selection Board में रखी OMR Sheet का मिलान Agency की OMR Sheet से कराया गया। मिलान में गड़बड़ी की पुष्टि होने पर कई Subjects के Result संशोधित करने पड़े थे। यदि वास्तव में इसी Agency को TET 2017 का काम दिया गया है तो सवाल उठना वाजिब है।

तत्कालीन शिक्षा निदेशक को जाना पड़ा था जेल :

Uttar Pradesh में पहली बार 13 November 2011 को आयोजित TET में गड़बड़ी के आरोप लगने के बाद तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा निदेशक Sanjay Mohan को 8 February 2012 को Ramabai Nagar Police ने गिरफ्तार किया था। उन्हें लंबे समय तक जेल में रहना पड़ा।

TET का जिम्मा संभालने वाली Agency पर उठे सवाल :

Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test, UPTET 2017 का जिम्मा संभालने वाली Agency सवालों के घेरे में आ गई है। इस संबंध में शिकायत के बाद State Council of Educational Research and Training, SCERT के निदेशक Dr. Sarvendar Vikram Bahadur Singh ने सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी (Secretary Examination Regulatory Authority) से स्पष्ट आख्या मांग ली है।

निदेशक से शिकायत की गई है कि Teacher Eligibility Test, TET 2017 का आयोजन एवं Exam Result से संबंधित कार्य उस Agency को दिया गया जिस पर माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड (Secondary Education Selection Board) की Trained Graduate Teacher,TGT– Post Graduate Teacher, PGT 2013 Or TET 2013 Or Exam Result संबंधी कार्य में बड़े स्तर पर धांधली के गंभीर आरोप लगे थे। ऐसे में State Council of Educational Research and Training, SCERT के निदेशक ने सचिव से इस मामले में स्पष्ट आख्या परिषद कार्यालय को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। बताते चलें कि TET में गड़बड़ी के मामले में तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा (Secondary Education) निदेशक Sanjay Mohan को जेल तक जाना पड़ा था। इसी Agency ने TGT-PGT 2013 की Optical Mark Recognition, OMR Sheet भी जांची थी जिसमें काफी गड़बड़ी सामने आई थी।
सचिव Dr. Mrs. S Singh का कहना है कि शासनादेश के तहत Agency के Selection का कार्य पूरी तरह गोपनीय होता है। शिकायत पूरी तरह काल्पनिक है। कुछ लोगों ने यह काम देने के लिए दबाव बनाने का प्रयास किया था लेकिन वे सफल नहीं हो सके। इसलिए वे इस तरह की काल्पनिक शिकायत कर रहे हैं। इसकी Report निदेशक को भेज दी गई है।

Join Our CTET UPTET Latest News WhatsApp Group

Like Our Facebook Page

 
Posted in A WhatsApp Group to Become a Force, ALL, Govt. Jobs, Latest News, UPTET, UPTET 2017, UPTET Latest News Tagged with: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Categories