UP Teachers Samayojan Rok Latest News in Hindi

UP Teachers Samayojan Rok Latest News in Hindi

UP Teachers Samayojan Rok Latest News in Hindi: Uttar Pradesh में चल रहे बेसिक शिक्षा के तबादले के ऊपर घमसान रुकने का जैसे नाम ही नही ले रहा है | सबसे पहले देखा जाए तो अंतर जिले तबादले के उपर घमसान मचा था, और घमासान अब समायोजत शिक्षको के जिले के अन्दर उनका समायोजन रोक दिए जाने से मचा हुआ है जैसे की थमने का नाम ही नही ले रहा है | बात यह है की हजारो की संख्या में समायोजित शिक्षको का पहले से ही जिले के अन्दर तबादला किया जा चूका है, शीर्ष कौर की आड़ में अब समायोजन को रोक दिया है |

UP Teachers Samayojan Rok Latest News in Hindi

UP Teachers Samayojan Rok Latest News in Hindi

1 लाख 37 हजार शिक्षा मित्रो का समायोजन 

Primary Schools Council में 1 लाख 37 हजार की तादाद शिक्षा मित्रो को समायोजन किया जा चूका है | लेकिन इस Allahabad High Court द्वारा पिछले साल रद्द कर दिया था, लेकिन वही Supreme Court द्वारा High Court के दिए आदेश पर Stay जारी हो गया था, तभी से शीर्ष कोर्ट इसके प्रकरण की सुनवाई कर रहा है | इसी के ही दौरान Uttar Pradesh के निम्न जिलो में Basic Eu cation Officers ने समायोजित शिक्षको (Adjusted Teachers) का उत्तर प्रदेश जिले के अंदर तबादला किया | इन शिक्षको में काफी संख्या में ऐसे भी शिक्षक थे जिन्होंने विभागीय मंत्रियों व वरिष्ठ अफसरों के अनुमोदन से अपने तबादले कराए |

शिक्षको के तबादले हुए निरस्त 

कुछ जिले ऐसे थे जिन्होंमे बड़ी संख्या में तबादले किये जा रहे थे जिनका प्रकरण तूल पकड़ा गया जिसके कारण से परिषद संजय सिन्हा को सभी के तबादले नरस्त करने पड़े थे और इसी के साथ BSA को यह भी निर्देश जारी किये गये थे की किसी भी तरह का स्थानान्तरण नही किया जायेगा | परिषद संचिव ने यह तर्क रखा था की समायोजित शिक्षको के प्रकरण शीर्ष Court में चल रहा , और जब तक कोर्ट कोई भी आदेश नही करता है तब तक शिक्षको का अन्तर तबादला नही किया जायेगा | परिषद सचिव द्वारा दिए गये आदेश के अनुसार शिक्षको के तबादले को निरस्त कर दिए गये तो फिर उसे High Court में चुनौती दे दी गयी |

High Court ने सचिव के दिए आदेश पर लगाई रोक 

High Court द्वारा सचिव के दिए गये आदेश पर रोक लग गयी | परिषद ने कुछ दिनों बाद High Court के आदेश का पालन किया और इसी के साथ परिषद सचिव ने बेसिक शिक्षा अधिकारयो को यह आदेश दिया की वह नया आदेश जारी करे और इसी के साथ उन्होंने अपने दिए गये पुराने आदेश को नरस्त कर दिया | इसी के साथ परिषद सचिव ने BSA को यह निर्देश भी जारी  किया की वह High Court के अनुरूप कार्यवाही की जाए | और इसी के साथ फिर उत्तर प्रदेश जिले के अंदर समायोजित शिक्षको का फेरबल शुरू हो गया | सूबे के कितने Primary Schools विहीन होने से शासन द्वारा जिले के अंदर समायोजन का आदेश दे दिया, इसलिए की किसी जगह पर ज्यादा शिक्षक व कही पर कम होने का संकट बिलकुल खत्म हो जाये |

समायोजित शिक्षको का प्रकरण शीर्ष कोर्ट में 

इस फैर समायोजित शिक्षको को इधर उधर किये जाने पर रोक लगा दी है | अफसरों द्वारा यह कहना है की समायोजित शिक्षको का प्रकरण शीर्ष Court में अभी चल रहा है Court आखिरी फैसले आने तक कोई भी समायोजन नही किया जायेगा | अब ऐसे में सब के मन में यह सवाल जरुर उठ रहा होगा की अगर ऐसा होना था तो फिर इनके तबादले क्यों किये गये ? अब इस समय फेरबदल पर रोक लगा दी है | अफसरों इन सवालों पर मौन है |

More News Today in Hindi 

Posted in ALL, Latest News Tagged with: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.