SSC CGL TIER 1 Geographical Details Of Bharat Vegetation Study Material In Hindi

SSC CGL TIER 1 Geographical Details Of Bharat Vegetation Study Material In Hindi

SSC CGL TIER 1 Geographical Details Of Bharat Vegetation Study Material In Hindi

भारत वनस्पति का भौगोलिक विवरण

SSC CGL TIER 1 Geographical Details Of Bharat Vegetation Study Material In Hindi

SSC CGL TIER 1 Geographical Details Of Bharat Vegetation Study Material In Hindi

वनस्पति

स्थिति विवरण

वृक्ष

उष्णकटिबन्धीय शुष्क मानसूनी वनस्पति 50 से 100 सेमी वर्षा वाले क्षेत्र में पूर्वी राजस्थान, उत्तरी गुजरात, दक्षिण–पश्चिम उत्तर प्रदेश, दक्षिणी पंजाब, हरियाणा आदि। महुआ, बबूल, पलाश, तेन्दू, बेर, बरगद, पीपल आदि।
उष्णकटिबन्धीय चिरहरित वनस्पति 200 सेमी से अधिक वर्षा वाले क्षेत्र में उत्तर–पूर्वी भारत, नीलगिरी पहाड़ियाँ, पश्चिमी घाट पर्वत का पश्चिमी ढाल अण्डमान एवं निकोबार द्वीप समूह रबर, महोगनी, आबनूस, आयरनवुड, ताड़, बाँस, बेंत, सिनकोना, रोजवुड आदि।
उष्णकटिबन्धीय आर्द्र मानसूनी वनस्पति या उष्णार्द्र ‘पतझड़ वन’ 100 से 200 सेमी के बीच वार्षिक वर्षा वाले क्षेत्र में पश्चिमी घाट पर्वत के पूर्वी ढाल, हिमालय का तराई क्षेत्र, बिहार, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंग, महाराष्ट्र, आन्ध्र प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश आदि। सागवान, साल, चन्दन, शहतूत, महुआ, शीशम, आँवला
मरुस्थलीय वनस्पति 50 सेमी से कम वर्षा वाले क्षेत्र में पाई जाने वाली वनस्पति पश्चिमी राजस्थान, उत्तरी गुजरात, पश्चिमी थार का वृष्टि छाया प्रदेश वृक्ष, खजूर, नागफनी बबूल आदि।
ज्वारीय वनस्पति समुद्र तट व निम्न डेल्टाई भाग में यह वनस्पति पाई जाती है। गंगा, ब्रह्रापुत्र डेल्टा, महानदी, कृष्णा, गोदावरी, कावेरी आदि नदियों के डेल्टाई भाग एवं  पूर्वी तथा पश्चिमी तट मैंग्रोव, नारियल, सुन्दरी, ताड़, बेंत बाँस आदि।
पर्वतीय वनस्पति हिमालय पर्वतों तथा उत्तर–पूर्व व दक्षिण भारत के पर्वतीय भागों में ओक, चेस्टनट, मैपिल सिल्वरफन, पाइन देवदार, एल्डट आदि

  • नीलगिरि, अन्नामलाई और पालनी पहाड़ियों पर शीतोष्ण कटिबन्धीय वनों को ‘शोलास’ कहते हैं।
  • क्षेत्रफल के अनुसार वनाच्छादित प्रदेश का घटता क्रम हैं—मध्य प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, ओडिशा।
  • राष्ट्रीय वन नीति (1988) के अनुसार देश के 33% भाग पर वन होने चाहिए। वर्तमान में 21.34% पर वन हैं। 60% वन पर्वतीय क्षेत्रों में और 25% वन मैदानी क्षेत्रों में होने चाहिए। वनावरण में सर्वाधिक वृद्धि पंजाब में तथा कमी आन्ध्र प्रदेश में हुई है।
  • प्रति व्यक्ति के अनुसार अरुणाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा वन हैं।
  • भारत में सर्वाधिक (41.87%) उष्णकटिबन्धीय शुष्क पर्णपाती वन हैं।

Know Mangrove Forest For SSC CGL TIER 1

मैंग्रोव वन

  • इन्हें पृथ्वी पर आर्द्रभूमियों (Wetlands) का संरक्षक माना जाता है।
  • ये विश्व के उष्णकटिबन्धीय तथा उपोष्णकटिबन्ध के तटीय क्षेत्रों में लवणीय जल में उगते हैं।
  • इनकी जड़ें मजबूत होती हैं, ये पानी में भी नहीं सड़ते हैं अत: ये तटीय क्षेत्रों में ज्वारीय तूफानों एवं सुनामी जैसी आपदाओं से रक्षा में सहयोग करते हैं।
  • ISFR 2015 के अनुसार भारत में विश्व की 3% मैंग्रोव वनस्पति हैं।
  • सर्वाधिक मैंग्रोव आच्छादित चार राज्य

      1.पश्चिम बंग (2106 वर्ग किमी)

  1. गुजरात (1107 वर्ग किमी)
  2. अण्डमान निकोबार (617 वर्ग किमी)
  3. आन्ध्र प्रदेश (367 वर्ग किमी)
  • पश्चिम बंग में इन्हें ‘सुन्दर वन’ कहते हैं।

SSC CGL Study Material Sample Model Solved Practice Question Paper with Answers

Join Our CTET UPTET Latest News WhatsApp Group

Like Our Facebook Page

 
Posted in A WhatsApp Group to Become a Force, ALL, Latest SSC News In Hindi, SSC, SSC CGL Study Material, ssc result news Tagged with: , , , , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Categories