72825 Teacher Vacancy In Scupreme Court

72825 Teacher Vacancy In Scupreme Court

72825 Teacher Vacancy In Scupreme Court

72825 Teacher Vacancy In Scupreme Court

72825 Teacher Vacancy In Scupreme Court: 72825 शिक्षक भर्ती के मामले में हो रहे आज सुप्रीम कोर्ट में हमारा केस दोपहर के बाद 303 नम्बर पर (यानी तीसरे नम्बर पर) सुना जाना है,,,दिनाँक 24 अक्टूबर 2015 को लखनऊ हुई बैठक में सर्वसम्मति से तय किये गए दो सीनियर एडवोकेट विकास सिंह और एल0 नागेश्वर राव हायर किये जा गये  हैं जो आज हमारी तरफ से पैरवी करेंगे कुछ फीस कम पड़ने की जानकरी  अभी भी दोनों वकीलों के खेमे से प्राप्त की गयी  है जिसपर हम सक्रिय हैं और व्यवस्था में लगे हुए हैं महागठबंधन में ठगबंधन हो जाने के कारण ही नागेश्वर राव की फीस को पूरी हो जाने की मुझे शत् प्रतिशत उम्मीद है बशर्ते ठगबंधन को शामिल करने के बाद ही कहीं पाठक जी को इनकी फीस 5.5 लाख से भी ऊपर ना बढ़ानी पड़े क्योंकि इस्सी पिछले ठगबंधन में नागेश्वर राव की फीस 4.5 से भी ज्यादा बढ़कर 5.5 करनी पड़ी थी हालाँकि स्वास्थ्य समस्याओं के कारण  से हमने अपना एक प्रतिनिधि भेजा  था और अवनीश भाई व्  मैं खुद दिल्ली रवाना भी नहीं हो सका था लेकिन कल शाम तक की परिस्थिति को देखते हुए ही अवनीश भाई (जो कि मेरी अपेक्षा दिल्ली से ज्यादा नजदीक हैं) को आग्रह करके दिल्ली भेज दिया गया है स्थितियों को देखते हुए ये स्पष्ट हो रहा है की अब सीनियर एडवोकेट विकास सिंह की कम पड़ रही फीस को पूरा करने की अत्यंत बड़ी आवश्यकता है साथ ही नागेश्वर राव को भी जरूरतों  के मुताबिक़ सहयोग किया जा सकता है

Shiksha Mitra Latest News In Hindi

आज सुनवाई से पहले  मैं सिर्फ और सिर्फ इन पैरवीकारों की गुहार को सुनकर इन्हें सहयोग की अपील करता हूँ और सभी जिलाध्यक्षों से ये निवेदन करता हूँ की वे अपने स्वविवेक से आज दोपहर से पहले ही  इन्हें सहयोग को उपलब्ध करवा दें ताकि इन्हें वकील खड़ा ना कर पाने सम्बन्धी कोई भी बहाना ना मिल पाये ,सुनवाई के ठीक बाद  मैं उन जयचन्द भाइयों का आह्वान करूँगा जो जंग के समय पारदर्शिता का तबला बजाते नजर आते हैं कि वे आगे आएं और जमकर अपनी तसल्ली कर ले ,यदि इस बार ये तबलची बैठक में नहीं आये तो तबला इनके कहाँ-कहाँ बजाया जाएगा इसका अंदाजा नही हे इन्हें खुद भी पता नहीं चलेगा,,,आज सुनवाई से ठीक पहले  मैं विगत सुनवाइयों का स्मरण करता हुु  तो बेहद आश्चर्यचकित होता हूँ जब अचयनित होने के बाद भी  हम 6 से 7 सीनियर वकीलों का पैनल खड़ा करते थे किन्तु आज जॉब और मानदेय मिलने के बाद भी हमारी स्थिति हमारे द्वारा परास्त की जा चुकी हे अकेडमिक टीम से भी बदतर हो गयी  है, और इसके जवाबदार ये टेट नेता नहीं बल्कि हमारे ही बीच खड़े टेट की खाल ओढ़े कुछ अकेडमिक दल के एजेंट हैं जिनका अकेडमिक और टेट मार्क्स दोनों बढ़िया ही बहुत बडिया  है ,लिकिन  आज शिराज-ए-हिन्द जनपद जौनपुर पुनः दस हजार की राशि सुजीत भाई को दी जा रही  है, इससे पहले करीब 15 हजार रूपये  भेजे जा चुके हैं।

Posted in 72825 latest news, ALL, Latest News, UPTET 72825 Latest News, UPTET Latest News Tagged with: , ,
Please wait...

कोई न्यूज़ छूटने ना पाए Subscribe Now

सभी न्यूज़ Updates अपने ईमेल पर जानने के लिए Subscribe करें
OK